Self Introduction in Hindi – English में अपना परिचय कैसे दें।

Self Introduction in Hindi – English

Self Introduction in Hindi : सेल्फ-इंट्रोडक्शन यानी की आत्म-परिचय एक ऐसी चीज है जो की हमारे पूरे व्यक्तित्व को निर्धारित करती है। सेल्फ-इंट्रोडक्शन एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके माध्यम से आप किसी दूसरे व्यक्ति या समूह को अपने बारे में परिचय देते है। वास्तव में आपके द्वारा दिया गया सेल्फ-इंट्रोडक्शन ही निर्धारित करता है की दूसरे व्यक्ति के मन में आपकी कैसी छवि बनने वाली है। हमे किसी भी नयी नौकरी के लिए आवेदन करने, नए व्यक्ति से मिलने, स्कूल, संस्थान या किसी समूह, किसी संस्थान में कार्य करने एवं जीवन के अन्य क्षेत्रों में कार्य हेतु अपना परिचय देने की जरूरत पड़ती है ऐसे में हमारे द्वारा दिया गया सेल्फ-इंट्रोडक्शन ही निर्धारित करता है की दूसरे व्यक्ति के मन पर हमारा कैसा प्रभाव पड़ता है।

Self Introduction in Hindi – English
Self Introduction in Hindi – English

वही कई लोग सेल्फ-इंट्रोडक्शन के बारे में सही जानकारी ना होने के कारण इंटरव्यू में घबरा जाते है और अनेक अवसरों को गँवा देते है। ऐसे में आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की आप हिंदी और अंग्रेजी में अपना परिचय कैसे दें (How to introduce yourself in Hindi – English). इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप अपना परिचय देने के सभी महत्वपूर्ण प्रोटोकॉल से परिचित हो सकेंगे और अपने जीवन में नए अवसरों के द्वार खोल सकेंगे।

Self Introduction in Hindi – English

अंग्रेजी में एक मशहूर कहावत है की “First Impression Is Last Impression” अर्थात पहला प्रभाव ही अंतिम प्रभाव होता है। इसका मतलब है की जब भी आप किसी व्यक्ति से पहली बार मिलते है तो दूसरे व्यक्ति के मन में आपकी जो छवि बनती है वह ताउम्र उस व्यक्ति के मन पर अंकित रहती है। इस बात से ही आप सेल्फ-इंट्रोडक्शन का महत्व समझ गए होंगे। वास्तव में पहली बार मिलने पर हम किसी दूसरे व्यक्ति के मन पर आत्म-परिचय द्वारा कैसी छाप छोड़ते है यही निर्धारित करता है कि भविष्य में हमारे व्यक्ति के साथ किस प्रकार के सम्बन्ध रहने वाले है। साथ ही नौकरी, स्कूल, कॉलेज और विभिन समूहों में भी अपना परिचय देने के लिए प्रभावी सेल्फ-इंट्रोडक्शन देना आवश्यक है। आपको बता दे की व्यक्ति और परिस्थिति ०.के आधार सेल्फ-इंट्रोडक्शन को 2 भागों में बाँटा गया है जो की निम्न है :-

  • 1: Formal Introduction (औपचारिक परिचय) – औपचारिक परिचय हमे नयी नौकरी पाने, कंपनी से सम्बंधित कोई प्रेजेंटेशन देने और आधिकारिक कार्यक्रमों में देनी पड़ती है।

औपचारिक परिचय में आप अपनी औपचारिक जानकारी जैसी नाम, पारिवारिक जानकारी, शिक्षा, अनुभव एवं कार्य से सम्बंधित अन्य जानकारियाँ देते है।

  • 2: Informal Introduction (अनौपचारिक परिचय) – अनौपचारिक परिचय अनौपचारिक कार्यो जैसे किसी नए व्यक्ति से मित्रता करने या सामाजिक संबंधो को स्थापित करने के लिए दिया जाता है।

अनौपचारिक परिचय में आप अपना अपनी रुचियों, विचारों एवं प्रतिदिन के जीवन से सम्बंधित आम बातों की जानकारी देते है। इस प्रकार के परिचय का मुख्य उद्देश्य मित्रता एवं अन्य प्रकार के अनौपचारिक सम्बन्ध स्थापित करना होता है।

सेल्फ-इंट्रोडक्शन देने के लिए महत्वपूर्ण टिप्स

सेल्फ-इंट्रोडक्शन देने के लिए निम्न बातों का ध्यान रखकर आप अपने आत्मपरिचय को और भी प्रभावी और अच्छा बना सकते है।

  • सेल्फ-इंट्रोडक्शन देने के लिए सबसे पहले आपको सम्बंधित व्यक्ति या कंपनी की आवश्यकताओं को जानना आवश्यक है। तभी आप प्रभावी प्रस्तुति तैयार कर सकते है।
  • आपके पहनावे का इंटरव्यूअर पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ता है ऐसे में आपको अपने पहनावे पर ध्यान देना चाहिए। फॉर्मल ड्रेस ही नौकरी सम्बंधित इंटरव्यू के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है।
  • इंटरव्यू रूम में घुसने पर सभी इंटरव्यूअर का हेलो या गुड-मॉर्निंग सर/मैम कहकर अभिवादन करें। साथ ही इंटरव्यू के दौरान सेल्फ-कॉंफिडेंट रहे।
  • इंटरव्यू के दौरान आप अपने बारे में सभी आवश्यक जानकारी और स्किल के बारे में जानकारी दे। साथ ही अपने पुराने अनुभव और लाइफ-वैल्यूज को भी प्रकट करें।
  • आपकी बॉडी-लैंग्वेज इंटरव्यू के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है ऐसे में अपना शरीर स्थिर रखे साथ ही बॉडी को अनावश्यक मूवमेंट ना करें। इंटरव्यूर से आँखे मिलाकर बात करना आपका आत्मविश्वास दर्शाता है।
  • सबसे अधिक और महत्वपूर्ण तथ्य यह है की आपको पूरे इंटरव्यू के दौरान ईमानदारी का परिचय देना चाहिए। झूठ या गलत तथ्य आपके इंटरव्यू को तबाह करने के लिए काफी होता है ऐसे में इंटरव्यू में सच्चाई बनाये रखे।

Hindi – English में अपना परिचय ऐसे दें

हिंदी और इंग्लिश में अपना परिचय देने के लिए आपको यहाँ एक चार्ट के माध्यम से कुछ महत्वपूर्ण बिंदु दिए गए है। यहाँ से आप अपनी तैयारी को धार दे सकते है।

Self Introduction in Hindi Self Introduction in English
मेरा नाम राजेश साहो है। My Name is Rajesh Saho.
मैं 24 वर्ष का हूँ। I am 24 Years old.
मैं कटक (ओडिशा) का रहने वाला हूँ। I live in Cuttak (Odisha).
मेरे घर में एक भाई और दो बहनें है। I Have One Brothers and two Sister.
मेरे पिताजी जल-विभाग में कार्यरत है एवं मेरी माताजी गृहणी है। My father works in water department and my mother is a housewife.
मैंने सूचना प्रद्योगिकी से अपनी बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी (बीटेक) पूरा किया है। I have completed my Bachelor of technology (B.Tech) in Information technology.
मुझे प्रद्योगिकी सम्बंधित विषयों में रुचि है। I am interested in technology related subjects
मैं भविष्य में सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनाना चाहता हूँ। I want to be a software engineer
मुझे नावेल पढ़ना और आउटसाइड घूमना पसंद है। I like to read novel and wander outside
Self Introduction in Hindi – English

Self Introduction in Hindi for Interview

अपना आत्मपरिचय देने के लिए आवश्यक है की आप Self Introduction के सभी महत्वपूर्ण नियमों को जान ले। आपका आत्मविश्वास ही आपकी सफलता तय करता है। यहाँ आपको प्रभावी Self Introduction और उसके सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं के बारे में जानकारी प्रदान की गयी है साथ ही Self Introduction हेतु नमूना दिया गया है जिसके माध्यम से आप अपना परिचय तैयार कर सकते है।

सुप्रभात/ हैल्लो/ गुड-मॉर्निंग सर/मैम

मेरा नाम प्रदीप सिंह है। मैं लुधियाना पंजाब से हूँ। मेरी उम्र 25 वर्ष है। मैं एक मध्यम वर्गीय परिवार से आता हूँ। मेरे घर में 2 भाई एवं एक बहन है। मेरे पिताजी एक किसान है एवं माताजी गृहणी है। मैंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राथमिक विद्यालय फिलौर एवं माध्यमिक शिक्षा विद्या मंदिर हिसार से पूरी की है। मैंने वर्ष 2018 में पंजाब यूनिवर्सिटी से बीएससी में स्नातक किया है और वर्तमान में मैं इंदिरा गाँधी यूनिवर्सिटी से फिजिक्स में एमएससी कर रहा हूँ। मुझे विज्ञान में विशेष रूचि है और मैं इस क्षेत्र में शोध कार्य करना चाहता हूँ। इसके अतिरिक्त मेरी रूचि क्रिकेट खेलने और नयी भाषा सीखने में है।

यहाँ हमने आपको सेल्फ- इंट्रोडक्शन का नमूना दिया है। आइये अब इसके सभी हिस्सों को एक-एक करके विस्तारपूर्वक जान लेते है।

अपना परिचय दें

इंटरव्यू की शुरुआत में आपको अपना Self Introduction देना होगा। यहाँ आपको अपना नाम और अपनी पारिवारिक जानकारी देनी आवश्यक होती है। आपको हमेशा यह कोशिश करनी चाहिए की आप परिचय को हमेशा संक्षिप्त एवं संतुलित रखे। यहाँ आपको सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं की जानकारी देनी आवश्यक होगी साथ ही अपने और परिवार के बारे में देते समय आपकी आवाज में आत्मविश्वास झलकना चाहिए। Self Introduction के प्रारम्भ में आपको सहज होना आवश्यक होता है।

शैक्षिक योग्यता

अपनी शुरूआती जानकारी के पश्चात आपको हमेशा अपनी शैक्षिक योग्यताओं के बारें में जानकारी देनी चाहिए। यहाँ आपको अपना हाई-स्कूल, इंटरमीडिएट एवं ग्रेजुएशन सम्बंधित जानकारी देनी चाहिए। साथ ही स्कूली शिक्षा के दौरान प्राप्त उपलब्धियों का विवरण अवश्य दे। इससे स्कूल में आपकी सक्रियता की झलक मिलती है जो की आपके इंटरव्यू को प्रभावी बनाती है।

अनुभव

सेल्फ-इंट्रोडक्शन में अनुभव महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। हालांकि फ्रेशर कैंडिडेट के लिए उनकी शैक्षिक योग्यता का परिचय देना ही आवश्यक होता है वही पहले से कार्य कर चुके कैंडिडेट अपने पुराने कार्यानुभव के बारे में जानकारी प्रदान कर सकते है। आपने पिछली कंपनी में कैसे कार्य किया और आपके वहाँ अर्जित किये गए कार्यानुभव की आपके इंटरव्यू में महत्वपूर्ण भूमिका रहती है।

आपकी रुचियों और शौक के बारे में

इंटरव्यू के दौरान आपको अपनी रूचि वाले क्षेत्रों और शौक के बारे में जानकारी देना आवश्यक होता है। आपकी रुचियाँ और शौक आपके व्यक्तित्व का मूल्याङ्कन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है और आपके व्यक्तित्व में अतिरिक्त प्लस-पॉइंट जोड़ते है। साथ ही आपको अपनी रुचियों से सम्बंधित जानकारी के बारे में पता होना आवश्यक है।

छात्रों के लिए Self Introduction

यहाँ आपको छात्रों के लिए Self Introduction नमूना दिया गया है। इसके आधार पर आप भी अपनी प्रभावी प्रस्तुति तैयार करके Self Introduction दे सकते है।

गुड-मॉर्निंग सर/मैडम

मेरा नाम आयुष कुमार है। मेरी उम्र 21 वर्ष है। मैं हल्द्वानी का रहने वाला हूँ। मैं वर्तमान में देवभूमि इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का कोर्स कर रहा हूँ। मुझे कंप्यूटर से बहुत लगाव है और मैं प्रतिदिन टेक्नोलॉजी से जुड़ी नयी-नयी जानकारियाँ सीखता रहता हूँ। इसके अतिरिक्त मुझे दोस्तों के साथ बाहर घूमना और वीडियो गेम खेलना भी बहुत पसंद है। भविष्य में मैं एक प्रोग्राम डेवलपर बनना चाहता हूँ।

फ्रेशर के लिए Self Introduction

फ्रेशर्स कैंडिडेट जो की पहली बार अपना इंटरव्यू दे रहे है वे इस प्रकार से अपना Self Introduction के लिए तैयारी कर सकते है।

गुड-मॉर्निंग सर/मैडम

मेरा नाम दिव्यांशु शर्मा है। मैं पुणे महाराष्ट्र से हूँ। मैं उम्र 22 वर्ष है। मैं एक निम्न मध्यवर्गीय परिवार से आता हूँ। मेरे पिताजी एक कृषक है और मेरी माताजी आंगनबाड़ी में कार्यरत है। मेरी प्रारंभिक शिक्षा गाँव के ही प्राथमिक विद्यालय से हुयी है और इंटरमीडिएट ज्योतिबा फुले राजकीय इंटर कॉलेज नासिक से हुआ है। मैंने Quantum Institute of Technology & Sciences, Nasik से मैनेजमेंट स्टडीज में अपना MBA डिग्री पूरी की है। इस दौरान मैंने मैनेजमेंट स्टडीज में 6 माह का एडवांस मैनेजमेंट सर्टिफिकेट कोर्स भी किया है। मुझे बिजनेस स्टडीज और मैनेजमेंट में रूचि है और मैं इससे सम्बंधित सभी प्रकार के जर्नल और मैगज़ीन को पढ़ता हूँ। इसके अतिरिक्त खाली समय में मैं अपने पिताजी के साथ खेती के काम में हाथ बंटाना पसंद करता हूँ। भविष्य में मैं मैनेजमेंट फील्ड में अपना करियर बनाना चाहता हूँ।

अनुभवी कैंडिडेट के लिए Self Introduction

अनुभवी कैंडिडेट इस प्रकार से अपना परिचय दे सकते है :-

गुड-मॉर्निंग सर/मैडम

मेरा नाम शिवम शिंदे है। मैं कर्नाटक का रहने वाला हूँ। मैंने वर्ष 2013 में भीमराव अम्बेडकर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से डाटा-साइंस में बीटेक किया है और वर्तमान में मैं ओरेकल आईटी सर्विसेज के साथ as a डाटा-इंजीनियरिंग काम कर हूँ। डाटा-साइंस के क्षेत्र में कार्य करते हुये मुझे 6 वर्षों का अनुभव है और मैंने कई प्रोजेक्ट में प्रोजेक्ट मैनेजर का कार्य भी किया है। साथ ही कंपनी द्वारा कई इंटरनेशनल प्रोजेक्ट के लिए भी मुझे टीम में कार्य करने का मौका मिला है। डाटा-साइंस के क्षेत्र मुझे गहरी समझ है और आपकी कंपनी के साथ जुड़कर मैं अपनी योग्यताओं का विकास कर कंपनी में महत्वपूर्ण योगदान देना चाहता हूँ।

ऑफिस मीटिंग्स के लिए Self Introduction

कंपनीज में अकसर विभिन मुद्दो को लेकर मीटिंग आयोजित की जाती है ऐसे में ऑफिस मीटिंग में आप निम्न प्रकार से अपनी प्रस्तुति दे सकते है।

गुड-मॉर्निंग आल

मेरा नाम प्रभास केतन है और मैं मैनेजमेंट डिपार्टमेंट में असिस्टेंट सुपरवाइज़र हूँ। आज की इस मीटिंग का उद्देश्य आपको कंपनी द्वारा मैनेजमेंट सिस्टम में किये गये बदलावों के बारे में आपको अवगत कराना है। साथ ही सर्विस डिपार्टमेंट में कंपनी द्वारा किये गये बदलावों के बारे में भी आज मैं आपकी जानकारी प्रदान करने वाला हूँ।

Self Introduction के 6 Golden rule

Self Introduction में विशेषज्ञों द्वारा 6 Golden rule निर्धारित किये गए है जो की आपके इंटरव्यू की सफलता की गारंटी देते है।

1. होठों पर हल्की मुस्कान बनाएं रखें

Self Introduction के दौरान आपको होठों पर हल्की मुस्कान बनाये रखनी चाहिए। यह वातावरण में सकारात्मकता लाता है और आपके आत्मविश्वासी होने का भाव प्रकट करता है।

interview kaise de

2. अभिवादन करें

इंटरव्यू के प्रारम्भ में आपको इंटरव्यूर या इंटरव्यूअर बोर्ड अभिवादन करना आवश्यक होता है जो की आपके शिष्टाचार को प्रकट करता है। आप हैलो/ गुड-मॉर्निंग से अपना अभिवादन शुरू कर सकते है।

greeting in interview

3. जरुरी है Eye Contact

आपका Eye Contact इंटरव्यूअर पर सकारात्मक प्रभाव डालता है और यह आपके आत्मविश्वास की निशानी भी होता है। साथ ही यह आपके अटेंशन को जानने का भी महत्वपूर्ण कारक है।

eye contact in interview

4. बॉडी-लैंग्वेज

Self Introduction के दौरान आपकी बॉडी लैंग्वेज आपके बारे में बहुत कुछ बता देती है। ऐसे में जरुरी है की आप अपने शरीर को शांत एवं स्थिर रखें साथ ही शरीर को हिलाने-डुलाने से बचें। शरीर का पोस्चर सही रखना और आवाज के टोन को संतुलित रखना भी बॉडी-लैंग्वेज का अहम हिस्सा है।

Interview Body Language

5. पहले समझें, फिर जवाब दे

इंटरव्यू के दौरान यह आवश्यक है की आप इंटरव्यूअर के प्रश्नों को अच्छे से समझकर ही जवाब दे। अगर आप ध्यानपूर्वक नहीं सुनते है तो आप इंटरव्यूअर की इंटेंशन को नहीं समझ सकते ऐसे में प्रश्न को ध्यानपूर्वक सुनना एवं समझना जरुरी है। साथ ही अपने उत्तरों को भी स्पष्ट एवं सरल रखे।

interview ke swawalo ke jawab kaise de

6. हाथ मिलाएं

मीटिंग खत्म होने के बाद भी आपमें शिष्टाचार झलकने चाहिए ऐसे में जरुरी है की आप अंत में हाथ मिलकर इंटरव्यूअर का अभिवादन करें।

handshake in interview

How to Introduce Yourself in English

बहुत सारे कैंडिडेट इंटरव्यू में इंग्लिश ना बोल पाने की वजह से मायूस हो जाते है और सिलेक्शन नहीं ले पाते। हालांकि अंग्रेजी बोलना इतना भी कठिन नहीं है और आप थोड़ा बहुत तैयारी करके आसानी से इंटरव्यू पास कर सकते है। यहाँ आपको इंग्लिश में परिचय देने के लिए एक संक्षिप्त नमूना दिया गया है जिससे की आप अपनी तैयारी अच्छे से कर सकते है। यहाँ आपको यह याद रखना आवश्यक है अभ्यास ही सफलता की कुँजी है ऐसे में आपको इस अभ्यास को अच्छे से तैयार करना आवश्यक है ताकि आप बेहतर तरीके से अपना परिचय दें सकें।

Hello/Good-Morning Sir/Madam

My name is Ramesh kumar. I am 23 years old. I hail from Jharkhand. I come from a middle class family. My father is a farmer and mother is a housemaker. In my family I have 2 brother and one sister. I did my primary education from govt. primary school korba and intermediate from Vidhya mandir dantewada. I am pursuing my B.Tech in civil engineering from Birsa munda institute of technology. apart form my graduation I am interested in extra curricular activities like playing games, wandering with friends and spending time with family. cricket is my favourite sport. I want to be a Civil engineer.

Self Introduction in English, मुख्य बिंदु

अंग्रेजी में Self Introduction देते समय आपको कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। इस बातों पर ध्यान देकर आप अपने इंटरव्यू को ना सिर्फ प्रभावी बना सकते है अपितु इंटरव्यूअर पर भी अपना अच्छा प्रभाव डाल सकते है। यहाँ आपको इंटरव्यू के दौरान कुछ वाक्यों का प्रयोग करके अपने भाव प्रकट कर सकते है :-

  • सर, मैं अंदर आ सकता हूँ ? (May I come in Sir)- इंटरव्यू रूम में प्रवेश करते समय आपको इस वाक्य का प्रयोग करना चाहिए।
  • बस इतना ही (That’s All)- किसी प्रश्न का पूर्ण उत्तर देने के पश्चात आप इस वाक्य का प्रयोग कर सकते है।
  • सर मुझे इस बारे में नहीं पता (Sorry Sir I don’t know about it/ i am not aware about it)- इंटरव्यू के दौरान यह आवश्यक है अगर आपको किसी सवाल का जवाब मालूम नहीं है तो आपको विनम्रतापूर्वक मना कर दे। इंटरव्यू में गलत तथ्य प्रकट ना करें साथ ही ईमानदारी का परिचय भी दें।
  • धन्यवाद (Thank You)- इंटरव्यू खत्म होने पर इंटरव्यूअर को धन्यवाद अवश्य दें।
  • क्या मैं अब जा सकता हूँ? (Sir, May I Go Now?)- इंटरव्यू खत्म होने पर आप इंटरव्यू रूम से बाहर जाने के लिए आप इस प्रकार अनुमति ले सकते है।

Self Introduction सम्बंधित अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

प्रभावी Self Introduction कैसे दें ?

प्रभावी Self Introduction के लिए आपको अपनी भाषा पर ध्यान देना आवश्यक है इसके अतिरिक्त अपनी शैक्षिक योग्यता, अपनी ताकत एवं कमजोरियों तथा अपने लक्ष्यों के बारे में भी आपको जानकारी होना आवश्यक है।

Self Introduction में किन-किन बातो का उल्लेख किया जाना चाहिए ?

Self Introduction में आपको अपना नाम, पारिवारिक जानकारी, शैक्षिक योग्यता एवं अपनी रुचियों एवं योग्यताओं का वर्णन करना चाहिए।

अपने परिचय के दौरान बॉडी-लैंग्वेज कैसी रखनी चाहिए ?

आपकी बॉडी-लैंग्वेज आपके बारे में बहुत कुछ कहती है ऐसे में आपको Self Introduction के दौरान अपनी बॉडी लैंग्वेज को सही रखना चाहिए। इसमें सही-पोस्चर एवं eye-contact महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

प्रभावी Self Introduction के कुछ नमूने दें ?

ऊपर दिए गए आर्टिकल के माध्यम से आपको प्रभावी Self Introduction के विभिन नमूने दिए गए है। इनके माध्यम से आप प्रभावी Self Introduction दे सकते है।

The post Self Introduction in Hindi – English में अपना परिचय कैसे दें। appeared first on CRPF India.

You may like these posts

-->