प्रदूषण पर निबंध – Pollution Essay in Hindi

प्रदूषण पर निबंध – Pollution Essay in Hindi

जैसा की आप सभी जानते है हिंदी हमारी मातृभाषा है हिंदी भाषा से प्रत्येक व्यक्ति का बहुत ही लगाव होता है आप सभी ने प्रदूषण के बारे में तो सुना ही होगा बच्चा बच्चा प्रदूषण शब्द से रूबरू है बचपन में विद्यार्थियों को परीक्षा के दौरान निबंध मिलते है विद्यार्थियों को एक अच्छा निबंध पेपर के लिए बहुत अच्छा निबंध तैयार करना होता है आज हम आपको ऐसे इंट्रस्टिंग टॉपिक के बारे में आपको बताने जा रहे है जिससे आपको जानकर ख़ुशी होगी और आज हम आपको प्रदूषण के विषय में सम्पूर्ण जानकारी देने जा रहे आर्टिकल के माध्यम से आपको आपको काफी जानकारी प्राप्त होगी अगर आप भी विद्यार्थी जीवन में है और आप प्रदूषण पर निबंध लिख रहे हैं तो आप हमारे साथ आर्टिकल के अंत तक जरूर बने रहे जिससे आपको जानकारी मिल सके।

प्रदूषण पर निबंध – Pollution Essay in Hindi
प्रदूषण पर निबंध – Pollution Essay in Hindi

प्रदूषण क्या होता है

प्रदूषण दो शब्दों से मिलकर बना है प्रदूषण को अंग्रेजी में पॉल्युशन कहा जाता है हमारे जीवन में पानी, हवा भूमि का बहुत महत्व है पानी, हवा भूमि में गंदगी होने से या किसी तत्त्व के मिल जाने पर जैविक अनचाहे परिवर्तन से प्राणियों को स्वास्थ सुरक्षा विकास प्रभावी तौर पर हानि पहुंचाता है इसे प्रदुषण कहा जाता है आजकल के समय में सभी चीज दूषित होने की वजह से अनेक प्रकार की बीमारिया पनप रही है जिससे लोग बीमारी के शिकार होते जा रहे है।

प्रदूषण के प्रकार

आइये अब हम आपको बताने जा रहे है प्रदूषण कितने प्रकार के होते है अगर आप भी जानना चाहते है नीचे दिए गए प्वाइंट्स को ध्यानपूर्वक पढ़े।

प्रदूषण कई प्रकार के होते है मुख्य रूप से प्रदूषण 3 प्रकार के होते है।

  • जल प्रदूषण
  • वायु प्रदूषण
  • ध्वनि प्रदूषण

जल प्रदूषण क्या है

पानी हमारे जीवन में बहुत ही आवश्यक है कहा जाता है जल ही जीवन है। जल प्रदूषण भी एक प्रकार का प्रदूषण है जल प्रदूषित होने की वजह से इसे जल प्रदूषण कहा जाता है जैसे पानी वाली जगह पर कूड़ा कचरा डालना जिसके कारण जल प्रदूषित हो जाता है जिसे कीटाणु शरीर में पहुंचकर अनेक प्रकार के रोग उत्त्पन करते है जिससे काफी बीमारिया पनपने लगती है।

वायु प्रदूषण क्या होता है

वायु प्रदूषण की अगर बात करें तो यह प्रदूषण भी बहुत की हानिकारक प्रदूषण होता है हवा से जो प्रदूषण होता है उसे वायु प्रदूषण कहा जाता है बाह्य वायुमंडल में कुछ ऐसे पदार्थ कलेक्ट हो जाते है जो मनुष्य एवं उसके पर्यावरण के लिए बहुत ही हानिकारक होती है यह वायु को प्रदूषित करता है जैसे राख आंधी तूफ़ान गाड़ियों से निकलने वाला धुआँ आदि आग कोहरे से वायु प्रदूषण होता है साथ ही साथ ये लोगो को जानवरो को भारी नुक्सान पहुंचाता है। वायु प्रदूषित होने की वजह से सांस की परेशानी गले में दर्द निमोनिया आदि अनेक प्रकार की बीमारिया होने लगती है।

ध्वनि प्रदूषण क्या होता है

ध्वनि का शाब्दिक अर्थ है आवाज ध्वनि को अंग्रेजी में साउंड कहा जाता है ध्वनि प्रदूषण भी एक प्रकार का प्रदूषण होताहै ध्वनि प्रदूषण तेज ध्वनि के कारण होता है जिससे सभी लोगो को प्राणियों को काफी परेशानी होती है जैसे वाहनों बस ट्रेन गाड़ियों फैक्ट्री में चल रही मशीनों की आवाज विवाह में चल रहे डीजे साऊंड की वजह से आदि से ध्वनि प्रदूषण होता है जिससे सुनने की क्षमता में प्रभाव पड़ता है ध्वनि प्रदूषण के कारण लोगो का मानसिक संतुलन बिगड़ जाता है सुनने की शक्ति कम होने लगती है जिससे व्यक्ति कम सुन पाता है।

अन्य प्रदूषण

मृदा प्रदूषण क्या होता है

मृदा प्रदूषण भी एक प्रकार का प्रदूषण है मिटटी से होने वाले प्रदूषण को मृदा प्रदूषण कहते है खेती करने वाले किसान कीटनाशक दवाइयों का इस्तेमाल अधिक करते है जिससे मृदा प्रदूषित होती है।भौतिक रसायनिक गुणवत्ता में कमी आने लगती है तो इससे मृदा प्रदूषित होने लगती है।

रेडियोधर्मी प्रदूषण

रेडिओधर्मी प्रदूषण भी एक प्रकार का प्रदूषण है प्रकृति में होने वाले पदार्थो में खुद विघटन होने के कारण ऑटोमेटिक रेडिएशन निकलती है इसे रेडियोधर्मी प्रदूषण कहा जाता है रेडियोधर्मी पदार्थो को इधर उधर फेकने से भी रेडियोधर्मी प्रदूषण होता है रेडियोधर्मी पदार्थो के कारण जो जहरीली गैस निकलती है उससे भी रेडिओधर्मी प्रदूषण होता हैं जिससे अनेक प्रकार की बीमारी फैलती है जैसे खून की कमी होना कैंसर आदि अनेक प्रकार की बीमारी होती है रेडिओधर्मी प्रदूषण बहुत ही नुक्सान पहुंचाता है इस प्रदूषण के कारण पेट में पल रहे नवजात शिशु की मृत्यु तक हो जाती है जीव जन्तुओ पर भी इसका प्रभाव बहुत तेजी से होता है।

प्रदूषण किन किन कारणों से होता है

अब हम आपको बतायेंगे प्रदूषण होने के कारण क्या क्या होते है आइये जानते है।

  • चिमनियों से धुआँ निकलने के कारण।
  • जल प्रदूषित होने की वजह से।
  • वायु प्रदूषित होने की वजह से।
  • तेज आवाज के वाहनों के कारण।
  • जहरीली गैसों के कारण

प्रदूषण के रोकथाम के उपाय

आइये जानते है प्रदूषण को कम कैसे किया जा सकता है रोकथाम करना बहुत ही आवश्यक है जिससे जनता बीमारियों से मुक्त हो सके अगर आप भी रोकथाम के बारे में जानना चाहते है नीचे दिए गए प्वाइंट्स को ध्यानपूर्वक देखे जिससे प्रदूषण को नियंत्रण में कर सके।

  • फैक्ट्रियों की चिमनियों को बढ़ा दे जिससे वायु प्रदूषण कम हो सके।
  • ऐसे चीजों का प्रयोग करे जिससे वायु प्रदूषित ना हो।
  • फील्ड पर प्राकृतिक खाद्य का इस्तेलमाल करें।
  • प्रदूषण के रोकथाम के लिए आपको सौर ऊर्जा का प्रयोग करें।
  • प्लास्टिक की चीजों का इस्तेमाल कम से कम करें जैसे पन्नी थैली डिस्पोजल आदि।
  • अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाने का प्रयास करें यानी वृक्षारोपण करने पर विशेष ध्यान दे।
  • हार्न का इस्तेमाल जरूरत पड़ने करें अनावश्यक प्रयोग ना करें।
  • दीपावली में कम से कम पटाखों का इस्तेमाल करे जिससे वायु प्रदूषित ना हो।
  • कीटनाशक दवाइयों का प्रयोग कम से कम करे।
  • कूड़ा करकट नालियों या रोड पर ना फेके कृपया उसे कूड़ेदान में डाले।
  • साफ सफाई का विशेष ध्यान रखे जिससे प्रदूषण को प्रदूषित होने से बचा सके।
  • ऐसी चीजों का प्रयोग करें जिससे दुबारा उस चीज का प्रयोग कर सके।

नोट अगर प्रत्येक व्यक्ति हर बात का विशेष ध्यान रखे तो लोग प्रदूषण से मुक्त हो सकते है प्रदूषण कम होने की वजह से प्रत्येक व्यक्ति स्वस्थ रह सकेगा देश प्रगति पर रहेगा और देश का विकास होगा।

निष्कर्ष

हमे प्रदूषण को प्रदूषित होने से रोकना होगा यह सब हमारे हाथ में है प्रत्येक व्यक्ति को प्रदूषण रोकथाम का ध्यान रखना होगा जिससे हमे स्वास्थ सम्बन्धी परेशानिया ना हो हम सभी स्वस्थ रह सके।

आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको काफी पसंद आयी होगी अगर आप इस आर्टिकल से सम्बंधित और जानकारी प्राप्त करना चाहते है या आपके डाउट्स है तो आप हमे कमेंट सेक्शन में जरूर बताये जिससे आपको जानकारी मिल सके।

प्रदूषण से जुड़े कुछ सम्बंधित प्रश्न उत्तर

प्रदूषण क्या होता है ?

जो हमारे पर्यावरण को प्रदूषित करती है उसे प्रदूषण कहा जाता है।

मुख्य रूप से प्रदूषण कितने प्रकार के होते है ?

मुख्य रूप से प्रदूषण 3 प्रकार के होते है।

ध्वनि प्रदूषण के क्या नुकसान है ?

ध्वनि प्रदूषण की वजह से सुनने की शक्ति कम होती है।

जल प्रदूषण किसे कहते है ?

जल के प्रदूषित होने को जल प्रदूषण कहा जाता है।

प्रदूषण के प्रकार कौन कौन से है ?

जल प्रदूषण, वायु प्रदूषण ध्वनि प्रदूषण 3 प्रकार के प्रदूषण होते है।

वायु प्रदूषण क्या होता है ?

जब हवा प्रदूषित होती है उसे वायु प्रदूषण कहते है।

The post प्रदूषण पर निबंध – Pollution Essay in Hindi appeared first on CRPF India.

You may like these posts

-->