नेट वर्थ क्या है? Net Worth meaning in hindi with example

Net Worth meaning in hindi  नेट वर्थ क्या है? टर्नओवर क्या होता है  | नेटवर्क का मतलब क्या होता है NET worth meaning in Hindi with example | नेट वर्थ फार्मूला टोटल नेट वर्थ 

NET WORTH क्या है ये कैसे काम में आती है NET WORTH का हिंदी में मतलब क्या होता है आप इसकी गणना कैसे कर सकते है NET WORTH से संबधित हर प्रश्न का उत्तर हम इस पोस्ट में देंगे।

Net Worth meaning in hindi  नेट वर्थ क्या है

नेट वर्थ एक मात्रात्मक अवधारणा है जो एक इकाई के मूल्य को मापता है और व्यक्तियों, निगमों, क्षेत्रों और यहां तक ​​कि देशों पर भी लागू हो सकता है।

निवल मूल्य एक इकाई की वर्तमान वित्तीय स्थिति का एक स्नैपशॉट प्रदान करता है।

व्यापार में, निवल मूल्य को बुक वैल्यू या शेयरधारकों की इक्विटी के रूप में भी जाना जाता है।

पर्याप्त निवल मूल्य वाले लोगों को उच्च-निवल-मूल्य वाले व्यक्ति (HNWI) कहा जाता है।

Net Worth meaning in hindi  नेट वर्थ क्या है?  नेट वर्थ को समझना

Net worth को समझने के लिए हम इसके दोनों शब्दों को अलग करेंगे - 

Net का मतलब शुद्ध और Worth का मतलब सम्पति अर्थात इसका मतलब शुद्ध सम्पति है | इसका उपयोग कम्पनी, व्यक्ति ,संस्था आदि के साथ किया जाता है जो उस कम्पनी , व्यक्ति या संस्था के आर्थिक स्थितियों को बताता है |

कम्पनी, व्यक्ति या किसी संस्था का Net worth उनकी कुल सम्पति (Total Asset) में कुल दायित्व (Total Libelities) में घटाने से प्राप्त होता है |

आपने अक्सर तरह तरह के माध्यमों से चाहे वह टीवी , रेडियो, या फिर समाचार पत्रों में हो, किसी कम्पनी , फिल्म स्टार्स , स्पोर्ट्स पर्सन(खिलाडियों ) के Net worth के बारे में सुना होगा |

अगर आप किसी कम्पनी या सेलिब्रेटीज का आर्थिक स्थिति (Financial Position ) के बारे में जानना चाहते है तो आपको उस कम्पनी या सेलिब्रिटीज का Net worth कैलकुलेट करना होगा |

नेट वर्थ को सकारात्मक या नकारात्मक के रूप में वर्णित किया जा सकता है, जिसका पूर्व अर्थ है कि संपत्ति (Assets) देनदारियों(Liabilities) से अधिक है और बाद में देनदारियां(Liabilities)  संपत्ति(Assets) से अधिक हैं। 

सकारात्मक और बढ़ती निवल संपत्ति अच्छे वित्तीय स्वास्थ्य का संकेत देती है । दूसरी ओर, निवल मूल्य में कमी चिंता का कारण है क्योंकि यह देनदारियों के सापेक्ष संपत्ति में कमी का संकेत दे सकता है।

निवल संपत्ति में सुधार करने का सबसे अच्छा तरीका है कि या तो देनदारियों को कम किया जाए जबकि संपत्ति स्थिर रहे या बढ़े, या संपत्ति में वृद्धि हो जबकि देनदारियां या तो स्थिर रहें या गिरें।

नेट वर्थ फार्मूला | How to Calculate Total Networth

नेट वर्थ फार्मूला | How to Calculate Total Networth

Net worth की गणना करना बहुत ही आसान है अगर आपको जोड़ना व घटाना आता है तो आप आसानी से Net worth कैलकुलेट कर सकते है |

नोट: यह फार्मूला स्टॉक मार्केट की किसी कंपनी के नेट वर्थ को जानने के लिए आप प्रयोग कर सकते है |

Net Worth = (Total Asset -Total Liabilities)

नेट वर्थ = कुल सम्पति – कुल दायित्व

यहाँ पर आपको net worth कैलकुलेट करने के लिए कुल सम्पति व कुल दायित्व को जानना आवश्यक है क्योंकि इनके बिना आप किसी व्यक्ति या कम्पनी का नेट वर्थ नही निकाल सकते है |

कुल सम्पति : सबसे पहले आपको सभी सम्पतियों का लिस्ट बनाना होगा अगर आपने अमिताभ बच्चन की डायलॉग सुनी हो "आज मेरे पास गाड़ी है , बंगला है , बैंक बैलेंस है तुम्हारे पास क्या है? " तो आप आसानी से कुल सम्पतियो की लिस्ट बना सकते हो |

NET worth meaning in Hindi with example 

Net worth एक फाइनेंसियल टर्म है, जो किसी व्यक्ति,कंपनी, संस्था, के अधिकार वाली शुद्ध सम्पति को बतलाता है, जिससे संबंधित पक्षकार आसानी से उसकी वॉल वित्तीय स्थिति को समझ सके।

किसी भी व्यक्ति, कंपनी या संस्था द्वारा अपनी Net Worth जानने के लिए निम्नलिखित गणितीय फॉर्मूला (सूत्र) का प्रयोग किया जाता है।

कुल सम्पति में  जमीन , प्लांट , बैंक बैलेंस, इन्वेस्टमेंट, स्टॉक, म्यूच्यूअल फंड्स , गाड़ी, बंगला सब को शामिल किया है |

कुल दायित्व : कुल दायित्व में किसी भी प्रकार का लोन (कार लोन , गोल्ड लोन , होम लोन आदि ) को शामिल किया जाता है |

Networth Calculation Example

Net worth की गणना :-निम्नलिखित उदाहरण द्वारा इसे आप आसानी से समझ सकते हैं।

उदहारण 1

उदहारण के लिए हमने माना कि एक कंपनी का कुल सम्पति 1000 करोड़ है व कुल दायित्व 700 करोड़ है 

तो उस कम्पनी का नेट वर्थ होगा -

Net worth (शुद्ध संपति) = Total Asset (कुल संपत्ति) - Total Liability (कुल दायित्व)

300 करोड़ = 1000 करोड़  – 700 करोड़

इस प्रकार हम कह सकते है कि उस कम्पनी की नेट वर्थ 300 करोड़ है |

उदहारण 2

नकद और बैंक जमा= 5,00,000

भवन = 5,00,000

फर्नीचर और आभूषण=80,000

Total Assets कुल संपत्ति =11,80,000

देनदारियां और ऋण = 3,00,000

अंशदान = 4,00,000

Total Liabilities कुल देयताएँ = 7,00,000

Net worth (शुद्ध संपति) = Total Asset (कुल संपत्ति) - Total Liability (कुल दायित्व)

Net worth (शुद्ध संपति)  = 11,80,000 - 7,00,000

कुल मूल्य (Net Worth)  = 4,80,000

उपर्युक्त उदाहरण के आधार पर स्पष्ट है कि नेट वर्थ किसी व्यक्ति या कंपनी की कुल संपत्ति और कुल दायित्व के बीच का अंतर है, जो धनात्मक और ऋणात्मक दोनों प्रकार का हो सकता है।

NET worth meaning in Hindi with example

नेट वर्थ के प्रकार

निवल मूल्य व्यक्तियों, कंपनियों, क्षेत्रों और यहां तक ​​कि देशों पर भी लागू किया जा सकता है।

व्यापार में नेट वर्थ

व्यापार में, निवल मूल्य को बुक वैल्यू या शेयरधारकों की इक्विटी के रूप में भी जाना जाता है । बैलेंस शीट को नेट वर्थ स्टेटमेंट के रूप में भी जाना जाता है। 

कंपनी की इक्विटी का मूल्य कुल संपत्ति और कुल देनदारियों के मूल्य के बीच के अंतर के बराबर होता है। ध्यान दें कि कंपनी की बैलेंस शीट के मूल्य ऐतिहासिक लागत या बुक वैल्यू को उजागर करते हैं, न कि मौजूदा बाजार मूल्यों को।

व्यक्तिगत वित्त में नेट वर्थ

किसी व्यक्ति की निवल संपत्ति केवल वह मूल्य है जो संपत्ति से देनदारियों को घटाने के बाद बचा है।

देनदारियों के उदाहरण, जिन्हें अन्यथा ऋण के रूप में जाना जाता है, में बंधक , क्रेडिट कार्ड शेष, छात्र ऋण और कार ऋण शामिल हैं। 

इस बीच, एक व्यक्ति की संपत्ति में चेकिंग और बचत खाते की शेष राशि, स्टॉक या बॉन्ड जैसी प्रतिभूतियों का मूल्य, वास्तविक संपत्ति मूल्य, एक ऑटोमोबाइल का बाजार मूल्य , आदि शामिल हैं। 

सभी संपत्तियों को बेचने और व्यक्तिगत ऋण चुकाने के बाद जो कुछ भी बचा है वह निवल मूल्य है।

ध्यान दें कि व्यक्तिगत निवल मूल्य के मूल्य में संपत्ति का वर्तमान बाजार मूल्य और वर्तमान ऋण लागत शामिल है।

देश की नेट वर्थ 

किसी देश की कुल संपत्ति की गणना इस देश में रहने वाली सभी कंपनियों और व्यक्तियों के निवल मूल्य के योग के साथ-साथ सरकार की कुल संपत्ति के योग के रूप में की जाती है। 

संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए, इस उपाय को वित्तीय स्थिति के रूप में संदर्भित किया जाता है , और 2014 तक कुल $123.8 ट्रिलियन था। (Source)

अपना निजी नेट वर्थ कैसे निकाल सकते है ? 

अपना Personal Net Worth निकालना काफी आसान होता है । अगर आप भी अपना निजी नेट वर्थ (Personal Net worth) निकालना चाहते है तो आपको यह स्टेप्स अपनाना होता है  ।

अपनी सभी संपत्तियों (Assets) की लिस्ट बनाये 

आपकी सभी संपत्तियों की लिस्ट बनाये और उनकी वर्तमान मार्केट वैल्यू पता करें , जैसे –

आपके घर, रियल एस्टेट का मूल्य

आपके सभी निवेशों का वर्तमान मूल्य

बैंक में जमा पैसे

गहने

आपकी कार

बिजनेस मूल्य

अन्य संपत्ति

संपत्तियों या Assets में आपके पैसे शामिल होते है, उदाहरण के लिए आपके Savings Accounts, Fixed Deposit, Investment Accounts आदि । इसके अलावा आपकी कार, घर, दुकान, Property या अन्य Investment भी सम्पत्ति में आते है , जिन्हें आप पैसो में बेच सकते है । ऐसी संपत्ति को Liquid Assets कहा जाता है ।

सभी देनदारी, जिम्मेदारियों (Liabilities) की लिस्ट बनाये

अपने सभी प्रकार के नियमित देनदारी की लिस्ट बनाइये, जैसे

Personal Loan

क्रेडिट कार्ड बिल

EMI

Home Loan, Car Loan

अन्य सभी देनदारी

देनदारी में आपके द्वारा लिए गए सभी प्रकार Loan, Credit Card Bill आदि शामिल होते है ।

अब कुल संपत्ति में से कुल देनदारी घटाए 

अपनी सभी संपत्ति के मार्केट मूल्य की गणना और देनदारी की गणना कर लेने के बाद, कुल संपत्ति में से कुल देनदारी घटा दीजिये, इसके बाद जो राशि बचती है वह आपका Net Worth निकलता है.

यह भी पढ़े 

Importance of Networth महत्व

शुद्ध सम्पति (NET WORTH) का उपयोग हम किसी कंपनी, संसथान, या व्यक्ति विशेष की आर्थिक स्थिति को समझने के लिए करते है इसका आशय यह है की अपनी देनदारियों (TOTAL LIABILITIES) को हटा कर व्यक्ति के पास कितनी तरल और अचलित सम्पति (ASSETS) है। 

ASSETS में आप की कुल संपत्ति आ जाएगी चाहे वो आप के पास उपस्थित रूपया हो या फिर आप के गहने से ले कर आप का घर और उसमे उपस्थित सामान की गणना करने पर हमे व्यक्ति विशेस, किसी संसथान या किसी कम्पनी की NET WORTH पता चलती है।

NET WORTH मुख्यतह कम्पनियो की आर्थिक स्थिति जानने के लिए उपयोग किया जहा है और उन कंपनियों के लिए अच्छी नेट वर्थ बहुत ही जरुरी होती है जो की share maket में लिस्टेड कम्पनिया है। 

कम्पनी की NET WORTH देख कर ही लोग उस कम्पनी में पैसा निवेश करते है तथा share खरीदते है। अच्छी नेट वर्थ वाली कम्पनी ज्यादा विश्वसनीय होती है जो की अच्छे प्रॉफिट में हो तथा उसकी देनदारियां काम हो।

नेट वर्थ एक प्रतिनिधित्व है जहां कोई वित्तीय रूप से खड़ा है। इसका उपयोग बजट बनाने, बुद्धिमान खर्च को प्रभावित करने, कर्ज चुकाने के लिए प्रेरित करने और किसी को बचाने और निवेश करने के लिए प्रेरित करने में मदद के लिए किया जा सकता है। 

सेवानिवृत्ति पर विचार करते समय निवल मूल्य को देखना भी महत्वपूर्ण है.

नकारात्मक निवल मूल्य (Negative Networth)

यदि कुल ऋण कुल संपत्ति से अधिक है तो ऋणात्मक निवल मूल्य परिणाम होता है। उदाहरण के लिए, यदि किसी व्यक्ति के क्रेडिट कार्ड बिल, उपयोगिता बिल, बकाया बंधक भुगतान, ऑटो ऋण बिल और छात्र ऋण का योग उनके नकद और निवेश के कुल मूल्य से अधिक है, तो निवल मूल्य नकारात्मक होगा।

नकारात्मक निवल मूल्य एक संकेत है कि एक व्यक्ति या परिवार को अपनी ऊर्जा ऋण में कमी पर केंद्रित करने की आवश्यकता है। 

एक कठिन बजट, ऋण घटाने की रणनीतियों का उपयोग जैसे कि ऋण स्नोबॉल या ऋण हिमस्खलन , और शायद लेनदारों के साथ कुछ ऋणों की बातचीत कभी-कभी लोगों को एक नकारात्मक निवल मूल्य छेद से बाहर निकलने और अपने संसाधनों का निर्माण शुरू करने में मदद कर सकती है।

जीवन की शुरुआत में, एक नकारात्मक निवल मूल्य असामान्य नहीं है - छात्र ऋण का मतलब है कि सबसे सावधान-से-पैसे वाले युवा भी अपने से अधिक का भुगतान करना शुरू कर सकते हैं। पारिवारिक जिम्मेदारियां या कोई अप्रत्याशित बीमारी भी लोगों को संकट में डाल सकती है।

जब कुछ और काम नहीं करता है, तो कुछ कर्ज को खत्म करने और लेनदारों को उस पर जमा करने की कोशिश करने से रोकने के लिए दिवालियापन संरक्षण के लिए दाखिल करना सबसे उपयुक्त समाधान हो सकता है। 

हालाँकि, कुछ देनदारियाँ - जैसे कि बच्चे का समर्थन, गुजारा भत्ता, कर और अक्सर छात्र ऋण - का निर्वहन नहीं किया जा सकता है । यह भी ध्यान में रखने योग्य है कि दिवालियापन कई वर्षों तक किसी व्यक्ति की क्रेडिट रिपोर्ट पर रहेगा।

वित्त में इक्विटी क्या है?

इक्विटी आमतौर पर शेयरधारकों की इक्विटी को संदर्भित करता है, जो ऋण और देनदारियों के निपटारे के बाद शेयरधारकों को अवशिष्ट मूल्य का प्रतिनिधित्व करता है।

शुद्ध मूर्त संपत्ति क्या हैं?

शुद्ध मूर्त संपत्ति की गणना किसी कंपनी की कुल संपत्ति, किसी भी अमूर्त संपत्ति, सभी देनदारियों और पसंदीदा स्टॉक के सममूल्य के रूप में की जाती है। 

धन कैसे मापा जाता है?

धन किसी व्यक्ति, समुदाय, कंपनी या देश के स्वामित्व वाली सभी संपत्तियों के मूल्य को मापता है। यहां हम चर्चा करते हैं कि धन का निर्माण और प्रबंधन कैसे करें। 

बैलेंस शीट क्या है?

एक बैलेंस शीट एक वित्तीय विवरण है जो एक विशिष्ट समय पर कंपनी की संपत्ति, देनदारियों और शेयरधारक इक्विटी की रिपोर्ट करता है।

Source : Investopedia, wikipedia

यह भी देंखे :

  1. अभयचरणारविंद भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जीवनी
  2. Wiki and Biography of Ritesh Agarwal A Self-made Young Entrepreneur
  3. हलधर नाग : ढाबा में जूठन धोने से लेकर पद्मश्री तक.!
  4. Maharishi Valmiki Biography "महर्षि वाल्मीकि का जीवन परिचय"
  5. Albert Einstein Biography in hindi | अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

दोस्तों, आशा करता हूँ, आपको ‘नेट वर्थ क्या है? Net Worth meaning in hindi with example ‘ पोस्ट रुचिकर लगी  होंगी . अगर यह जानकारी पसंद आयी तो आप कमेंट करके ज़रूर बताये. और अपने Friends को Share भी करें. ‘Interesting Crocodile Facts For Kids’ जैसे अन्य रोचक तथ्य पढ़ने के लिए हमारे वेब पोर्टल पर आते रहे.

धन्यवाद् अगर आप को ये पोस्ट "Net Worth meaning in hindi  नेट वर्थ क्या है?"अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करे और अगर आप के मन में NET WORTH से रिलेटेड कोई प्रश्न हो तो आप कमेंट में लिख कर पूछ सकते है।

You may like these posts

-->