Sundar Pichai Biography in Hindi | सुंदर पिचाई की जीवनी

Sundar Pichai Biography in Hindi | सुंदर पिचाई की जीवनी (Sundar Pichai Biography, Education, height, net worth In Hindi) 

भारत में बहुत से ऐसे लोग हुए जिन्होंने भारत देश का नाम हमेशा ऊंचा रखने के लिए कुछ भी कर जाते हैं। या फिर कुछ लोग अपने करियर को बनने की मेहनत कर रहे हैं फिर भी उनका नाम हुआ। उन्हीं में से एक हैं Sundar Pichai जिन्होंने एक साधारण स्कूल में पढ़ाई की लेकिन खड़गपुर के आईआईटी से बीटेक किया। इसके बाद इनके साथ जो भी हुआ वो उन्होंने अपनी मेहनत के बल पर हासिल किया। Sundar Pichai Biography in Hindi में आपको गहराई से पढ़ना चाहिए और यहां आपको सही जानकारी मिलेगी।

सुंदर पिचाई का जीवन परिचय 

जन्मदिन (Birthday)12 जुलाई, 1972
जन्म स्थान (Birth Place)मदुरै, तमिलनाडु, भारत
पिता का नाम (Father’s Name)रघुनाथ पिचाई
माता का नाम (Mother’s Name)लक्ष्मी पिचाई
भाई का नाम (Brother’s Name)एक है, नाम की जानकारी नहीं
पत्नी का नाम (Wife’s Name)अंजलि पिचाई
बच्चों का नाम (Children’s Name)किरण पिचाई और काव्या पिचाई
Sundar Pichai Biography in Hindi | सुंदर पिचाई की जीवनी
पूरा नाम (Name)पिचाई सुंदरराजन
नागरिकता (Citizenship)संयुक्त राज्य अमेरिका
गृह नगर (Hometown)भारत
शिक्षा (Education)भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर,

 

स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय और

पेनसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी

धर्म (Religion)हिंदू
भाषा का ज्ञान (Language)हिंदी, अंग्रेजी
पेशा (Occupation)गगूल के सीईओ, कंप्यूटर इंजीनियर
लंबाई (Height)5’11
वजन (Weight)66 किलो
राशि (Zodiac Sign)कर्क
कुल संपत्ति (Net Worth)US$1.2 अरब (83,73,00,00,000)

प्रारंभिक जीवन 

पिचाई का जन्म मदुरै, तमिलनाडु, भारत मे  तमिल परिवार में लक्ष्मी और रघुनाथ पिचाई के घर हुआ। उनकी मां लक्ष्मी एक स्टेनोग्राफर थीं और ,उनके पिता रघुनाथ पिचाई ब्रिटिश समूह के जीईसी में एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे। सुंदर के पिता का मैन्युफैक्चरिंग प्लांट था जहा इलेक्ट्रिक कॉम्पोनेंट बनाए जाते थे।(सोर्स विकिपीडिया)
Sundar Pichai Family परिवार

सुंदर पिचाई की शिक्षा (Education) –

सुन्दर ने जवाहर नवोदय विद्यालय, अशोक नगर, चेन्नई में अपनी दसवीं कक्षा पूरी की और वना वाणी स्कूल, चेन्नई में स्थित स्कूल से बारहवीं कक्षा पूरी की। पिचाई ने मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, खड़गपुर से अपनी बैचलर डिग्री अर्जित की। उन्होने एम. एस. सामग्री विज्ञान में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय और इंजीनियरिंग और पेनसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से एमबीए किया जहां उन्हे एक विद्वान साइबेल और पामर विद्वान नामित किया गया।(सोर्स विकिपीडिया)

सुंदर पिचाई की निजी जिंदगी से जुड़ी जानकारी-

Google के CEO सुंदर पिचाई को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। उनकी सफलता की कहानी कई लोगों के लिए प्रेरणा है। चेन्नई में एक साधारण जीवन जीने से लेकर अपने देश को गौरवान्वित करने तक, वह लोगों से लेकर धन-दौलत तक का एक अच्छा उदाहरण है। हम सभी उसकी सफलता के बारे में जानते हैं, लेकिन उस महिला के बारे में नहीं जानते, जो उनकी तरफ से खड़ी थी और हमेशा उसका समर्थन करती थी। जी हां, हम बात कर रहे हैं उनकी पत्नी अंजलि पिचाई की। उनकी प्रेम कहानी भी उन्हीं की तरह प्यारी और सरल थी। सुंदर एक मध्यम वर्गीय परिवार से थे। वह चेन्नई में रहते थे और एक साधारण जीवन जीते थे, सुंदर इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT), खड़कपुर से मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग (धातुकर्म इंजीनियरिंग) की पढ़ाई कर रहे थे और वहां उनकी मुलाकात अंजलि से हुई। वे दोनों सहपाठी थे। वे अच्छे दोस्त बन गए और दोनों ने शादी कर ली। अंजलि से सुन्दर को दो बच्चे है, काव्या और किरण है।

सुंदर पिचाई का करियर (career) –

सुंदर पिचाई का गूगल से जुड़ने से पहले का करियर Career Before Joining Google

गूगल से जुड़ने से पहले सुंदर पिचाई म्क किन्से एंड कंपनी(McKinsey & Company) में संचालन परामर्श के रूप में काम करते थे।

 उन्होंने एप्लाइड मैटेरियल्स में इंजीनियरिंग और उत्पाद प्रबंधन के रूप में भी अपने प्रतिभा का योगदान दिया।

सुंदर पिचाई का गूगल से जुड़ने के बाद का जीवन Career After Joining Google

वह 2004 में गूगल में आए। जहाँ वे गूगल के उत्पाद जिसमें गूगल क्रोम, क्रोम ओएस शामिल है। शुरुआत में वह गूगल के सर्च बार पर छोटी टीम के साथ काम करते रहे। इसके बाद उन्होंने गूगल के कई और प्रोडक्ट पर भी काम किया है। उन्होंने जीमेल और गूगल मैप्स जैसे अन्य अनुप्रयोगों के विकास की देखरेख की। इसके बाद वह गूगल ड्राइव परियोजना का हिस्सा बने। इसके बाद वह अन्य उत्पाद जैसे जीमेल और गूगल मानचित्र, आदि का हिस्सा बने। इसके बाद वह 19 नवम्बर 2009 में क्रोम ओएस और क्रोमबूक आदि के जाँच कर दिखाये। वह इसे 2011 में सार्वजनिक किया। 20 मई 2010 को वह वीपी8 को मुक्तस्रोत के रूप में बताया। इसके बाद वह एक नई वीडियो प्रारूप वेबएम के बारे में भी बताया।(सोर्स विकिपीडिया)

यह 13 मार्च 2013 को एंडरोइड के परियोजना से जुड़े। जिसे पहले एंडी रूबिन संभालते थे। यह अप्रैल 2011 से 30 जुलाई 2013 तक जीवा सॉफ्टवेयर के निर्देशक बने थे।(सोर्स विकिपीडिया)
Sundar Pichai Biography in Hindi | सुंदर पिचाई की जीवनी

सुंदर पिचाई के साथ जुड़े विवाद (Controversy)-

कर्मचारी को निकालने का विवाद - सुंदर पिचाई काफी साफ छवि वाले व्यक्ति हैं और इनके साथ किसी भी तरह का विवाद नहीं जुड़ा हुआ है. हालांकि साल 2018 में इन्होंने अपनी कंपनी से जेम्स डेमोर को उनके द्वारा लिखे गए एक मेमो के चलते बाहर निकाल दिया था. इस मेमो में जेम्स ने लिखा था कि  गूगल कंपनी महिलाओं को कम  मौका देती है और इस कंपनी में काफी कम संख्या में महिलाएं काम कर रही हैं. वहीं जेम्स को निकालने के बाद सुंदर पिचाई ने अपनी सफाई देते हुए कहा था, कि जेम्स को निकालने का निर्णय सही था. (सोर्स दिपावली)

सुंदर पिचाई की कुल आय और इनकम ( Net Worth And Income)

सुंदर पिचाई की कुल संपत्ति:  US$ 920 मिलियन डॉलर (25 जून 2019 तक)

सुंदर पिचाई की सैलरी (Salary of Sundar Pichai): सुंदर पिचाई की सैलरी US$ 6.5 लाख प्रति वर्ष है जो 2015 से जारी है. लेकिन व्यक्तिगत सुरक्षा बजट और अन्य लाभों को जोड़ने के बाद यह 2018 में बढ़कर 1,881,066 अमेरिकी डॉलर हो गयी थी.

सुंदर पिचाई के जीवन से जुड़ी जानकारी (Interesting Facts) –

Sundar Pichai का जन्म 12 जुलाई, 1972 को तमिलनाडु के मदुरै शहर में हुआ था। इनके पिता विद्युत इंजीनियर और मां स्टेनोग्राफर थीं। 

Sundar Pichai ने अपनी 10वीं तक की पढ़ाई जवाहर विद्यालय से की थी और 12वीं की पढ़ाई वाना-वानी स्कूल से पूरी की।

इन्होंने मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग की पढाई भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान खड़गपुर से पूरी की और फिर उऩ्हें अमेरिका जाने के लिए स्कॉलरशिप मिली। मगर एयर टिकट के लिए उनके पिता के पास पैसे नहीं थी और उन्होंने कर्जा लेकर उन्हें भेजा था।

अमेरिका में Sundar Pichai ने भौतिक विज्ञान और इंजीनियरिंग में मास्टर्स किया और फिर व्हार्टन स्कूल ऑफ पेंसिल्वेनिया से एमबीए की पढ़ाई पूरी की। इसके बाद वे भारत वापस आ गए और यहां पर जॉब सर्च करने लगे।

इसी बीच Sundar Pichai की शादी उनके साथ पढ़ने वाली अंजली से हो गई। इनके दो बच्चे हैं और ये सभी न्यूयॉर्क में रहते अपने माता-पिता के साथ रहते हैं।

साल 2004 में सुंदर पिचाई की Google में जॉब लगी और वे अमेरिका चले गए। यहां पर इन्हें उत्पाद प्रबंधन, कई खोजों और नये विचारों से संबंधित काम दिया गया था।

Sundar Pichai आज भी गूगल में सेवा दे रहे हैं और इतने सालों में उन्होंने गूगल क्रोम, गूगल मैप, गूगल ड्राइव जैसे एप बनाए जिन्होंने उपभोक्ता के कई काम आसान कर दिए।

साल 2010 में पिचाई ने गूगल के नए वीडियो कोडेक VP8 के ओपन सोर्सिंग का एलान किया था और गूगल के इस वीडियो को कोडेक ने एक नया वीडियो फॉर्मेट WebM प्रस्तुत किया था।

साल 2014 में गूगल के को-फाउंडर लैरी पेज ने पिचाई को प्रोडक्ट हेड बनाने की अनाउंसंमेंट की थी और अल्फाबेट इंक अब गूगल के सभी प्रोडक्ट्स और कंपनियों को होल्डिंग कंपनी होगी और इसके सीईओ लैरी पेज होंगे।

साल 2011 में Twitter ने Sundar Pichai को जॉब ऑफर किया था और वो तैयार भी हो गए थे लेकिन गूगल ने नौकरी ना छोड़ने के 305 करोड़ रुपये दिए थे क्योंकि गूगल जानता था कि उनमें कुछ बात तो है।

सोर्स Image : Twitter 

यह कहा जा सकता है कि सुंदर पिचाई एक महान आविष्कारक और एक परफेक्ट तकनीशियन हैं. हम सभी भारतीयों को उनकी सफलता पर गर्व है.

You may like these posts