UP Kanya Sumangala Yojana क्या है? [Apply online] इस योजना के क्या लाभ है?

यूपी कन्या सुमंगला योजना आवेदन | Kanya Sumangala Apply Online | उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला स्कीम फॉर्म | कन्या सुमंगला योजना यूपी रेजिस्ट्रेशन

Kanya Sumangala Yojana 2022 - यहा हम इस लेख मे UP सरकार ध्वारा शुरू की गई Kanya Sumangala Yojana के बारे मे जरूरी जानकारी प्राप्त करेंगे। इस लेख मे हम उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथजी ध्वारा बेटियो के उज्ज्वल भविष्य के लिए Kanya Sumangala Yojana को शुरू किया गया है।

Kanya Sumangala Yojana क्या है? इस योजना के क्या लाभ है? इसका लाभ किसको प्राप्त होगा? कौन-कौन इसके तहत आवेदन कर सकता है? आवेदन करने क लिए कोनसे दस्तावेज़ लगेगे? कैसे आवेदन करना है?आदि की जानकारी हम यहा प्राप्त करेंगे।

Kanya Sumangala Yojana कन्या सुमंगला योजना परिचय 

उतर प्रदेश सरकार ने बेटियों को अपने पैरों पर खड़ा करने के लिए एक बेहतरीन योजना चलाई है। इस योजना का नाम मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना है। इस योजना में जहां बेटी के पैदा होने से लेकर उसकी शादी होने तक तमाम तरह के आकर्षक लाभ दिए जाते हैं। बेटियों के हितों को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 8 फरवरी 2019 को कन्या सुमंगला योजना शुरू करने का फैसला लिया था।

इस योजना के तहत बालिकाओ को जन्म से लेकर स्नातक के अभ्यास तक 15 हजार की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। जो उनके बैंक खाते मे जमा होगी। इस योजना के तहत Beti Bachao Beti Padhao योजना को भी बढ़ावा प्राप्त होगा और साथ ही महिलाओ के सशक्तिकरण को भी बल प्राप्त होगा।

यह भी पढ़े 

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की आवश्यकता

भारत का सामाजिक तानाबाना स्वयं में जटिल और संवेदी है। सामाजिक, धार्मिक, शैक्षिक और पारिवारिक परिस्थितियां महिलाओं और बालिकाओं के लिए अनादिकाल से भेदभाव पूर्ण रही है। 

समाज में प्रचलित कुरीतियां एवं भेद-भाव जैसेः कन्या भ्रूण हत्या, असमान लिंगानुपात, बाल विवाह एवं बालिकाओं के प्रति परिवार की नकारात्मक सोच जैसी प्रतिकूलताओं के कारण प्रायः बालिकायें/महिलायें अपने जीवन, संरक्षण, स्वास्थ एवं शिक्षा जैसे मौलिक अधिकारों से वंचित रह जाती हैं। 

इन सामाजिक कुरीतियों को दूर करने हेतु सरकारी और गैर-सरकारी स्तर पर निरन्तर प्रयास भी किये जा रहे हैं। इस परिवेश के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के रूप में नई पहल की जा रही है जो अत्यन्त आवश्यक है। 

राज्य सरकार द्वारा बालिकाओं एवं महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा के साथ-साथ विकास हेतु नये अवसर प्रदान करने के लिए यह योजना प्रारम्भ की जा रही है। 

इसके फलस्वरूप जहाँ एकतरफ कन्या भ्रूण हत्या एवं बाल-विवाह जैसी कुरीतियों के रोकथाम के प्रयासों को बल मिलेगा वहीं दूसरी ओर बालिकाओं को उच्च शिक्षा व रोजगार के अवसरों की ओर बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा। महिला सशक्तिकरण वर्तमान उत्तर प्रदेश सरकार की प्रतिबद्धता है।


Kanya Sumangala Yojana Official Website

Website पर जाने के लिए यहा CLICK करे।

Kanya Sumangala Yojana Details

  • इस योजना को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बेटियो के लिए लागू किया गया है। 
  • इस योजना का मुख्य आशय बेटियो को आर्थिक सहायता प्रदान करना है। 
  • इस योजना का कुल बजट 1200 करोड़ रुपए है। 
  • इस योजना के तहत बेटियो का जन्म दर को बढ़ाना, समाज मे पुरुष समान स्थान देना, पढ़ाई करने के लिए प्रोत्साहित करना, बाल-विवाह को रोकना आदि जैसे आशय को पूरा करना है। 
  • इस योजना के तहत आवेदक दो बेटियो के तहत आवेदन कर सकता है। 
  • इस योजना का लाभ दोनों बेटियो को बराबर प्राप्त होगा। 
  • योजना का लाभ बेटी के जन्म से उसके स्नातक तक के अभ्यास तक प्राप्त होगा। 
  • योजना के तहत मिलने वाले लाभ आवेदन की तिथि से 3 महीने के भीतर मे आवेदक के बैंक खाते मे जमा होगे। 
  • इसके तहत भुगतान जून, सितम्बर, दिसंबर व फरवरी माह मे होगे। 
  • इसके तहत मिलने वाली धनराशि Online रूप से सीधे लाभार्थी के बैंक खाते मे जमा होगी। 
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए बैंक खाता राष्ट्रीयकृत बैंक मे होना अनिवार्य है। 
  • नाबालिग आवेदको के लिए मिलने वाला लाभ उसके माता \ पिता या अभिभावक के खाते मे जमा होगा। 

Kanya Sumangala Yojana Objective

  • राज्य मे कन्या की स्वास्थ्य एवम शिक्षा की की स्थिति को सुधारना।
  • राज्य मे कन्या भ्रूण हत्या को समाप्त करना।
  • राज्य मे समान लिंगानुपात स्थापित करना।
  • बाल विवाह को रोकना।
  • नवजात कन्या के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करना।
  • राज्य मे कन्या के जन्म के प्रति लोगो मे सकारात्मक सोच को विकसित करना।
  • कन्या के उज्ज्वल भविष्य को बढ़ावा देना।
Read More

Uttar Pradesh Kanya Sumangala Yojana के मुख्य तथ्य

इस योजना के अंतर्गत कन्या के जन्म से लेकर पढाई तक का 15000 रूपये का सारा खर्च सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में दिया जायेगा |

इस Kanya Sumangala Scheme 2020 के तहत कन्या के परिवार की वार्षिक आय 3 लाख या उससे कम होनी चाहिए |

राज्य सरकार द्वारा इस योजना का कुल बजट 1200 रूपये रखा गया है |

यदि उत्तर प्रदेश के किसी परिवार ने अनाथ कन्या को गोद लिया हो तो परिवार की जैविक सन्तानो तथा विविध रूप में गोद ली गयी सन्तानो को सम्मिलित करते हुए अधिकतम 2 लड़किया इस योजना की लाभार्थी होंगी |

MKSY 2020 के तहत परिवार की अधिकतम 2 लड़कियों को ही पात्र माना जायेगा |

Kanya Sumangala Yojana Benefits

इस योजना के तहत मिलने वाले लाभों की जानकारी आपको निम्नरूप से दी गई है। योजना के 6 तरह के अलग अलग क्रियान्वयन की श्रेणी के आधार पर इसके लाभ भी अलग अलग है।


कन्या सुमंगला योजना की 6 किश्ते

श्रेणी के प्रकारदी जाने वाली धनराशि 
श्रेणी 1 – कन्या के 1 अप्रैल 2019 या इसके बाद जन्म होने पर तथा इस योजना के तहत कन्या के लिए आवेदन जन्म से लेकर 6 माह के  अंदर करना होगा2000 रूपये की धनराशि दी जाएगी|
श्रेणी 2 – कन्या के एक वर्ष के तक के पूर्ण टीकाकरण के उपरांत1000 रूपये की धनराशि दी जाएगी |
श्रेणी 3 –  कन्या के कक्षा 1 में प्रवेश लेने पर2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |  
श्रेणी 4 – कन्या के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |  
श्रेणी 5 – इसके बाद कक्षा 9 में प्रवेश लेने के उपरांत3000 रूपये की धनराशि  
श्रेणी 6 – कक्षा 10 /12 वी  उत्तीर्ण करके चालू शैक्षिणिक सत्र के दौरान स्नातक /डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लेने पर5000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |

Kanya Sumangala Yojana Eligibility मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की पात्रता की अहर्ताएं

1. लाभार्थी का परिवार उत्तर प्रदेश का निवासी हो तथा उसके पास स्थायी निवास प्रमाण पत्र हो, जिसमें राशन कार्ड/आधार कार्ड/वोटर पहचान पत्र/विद्युत/टेलीफोन का बिल मान्य होगा।

2. लाभार्थी की पारिवारिक वार्षिक आय अधिकतम रु0-3.00 लाख हो।

3. किसी परिवार की अधिकतम दो ही बच्चियों को योजना का लाभ मिल सकेगा।

4. परिवार में अधिकतम दो बच्चे हों।

5. किसी महिला को द्वितीय प्रसव से जुड़वा बच्चे होने पर तीसरी संतान के रूप में लड़की को भी लाभ अनुमन्य होगा। यदि किसी महिला को पहले प्रसव से बालिका है व द्वितीय प्रसव से दो जुड़वा बालिकायें ही होती हैं तो केवल ऐसी अवस्था में ही तीनों बालिकाओं को लाभ अनुमन्य होगा।

6. यदि किसी परिवार ने अनाथ बालिका को गोद लिया हो, तो परिवार की जैविक संतानों तथा विधिक रूप में गोद ली गयी संतानों को सम्मिलित करते हुये अधिकतम दो बालिकायें इस योजना की लाभार्थी होंगी।

Required Documents for Kanya Sumangala Yojana

  • राशन कार्ड 
  • आधार कार्ड (माता-पिता \ अभिभावक का \ यदि उपलब्ध हो तो बालिका का) \ PAN कार्ड \ Voter ID \ Driving Licence \ Passport \ बैंक पासबूक 
  • परिवार की वार्षिक आय के संबंध मे स्व-सत्यापन। 
  • बालिका का नवीनतम फोटो। 
  • शपथ पत्र 10 रुपए के स्टम्प पेपर पर। 
  • बैंक पासबूक 
  • आवेदक व बालिका का नवीनतम सयुंक्त फोटो 
  • परिवार आई. डी. हेतु पहेले से पंजीकृत बालिका की कन्या सुमंगला पहचान \ पंजीकरण संख्या / रशीद (यदि लागू हो) 
  • गोद लेने का प्रमाणपत्र (यदि लागू हो) 
  • मृत्यु प्रमाणपत्र (यदि लागू हो) 

How to Apply for Kanya Sumangala Yojana

इस योजना के तहत आप Online व Offline दोनों तरीको से आवेदन कर सकते है।

कन्या सुमंगला योजना  | mksy.up.gov.in ऑनलाइन आवेदन करे

उत्तर प्रदेश के जो परिवार अपनी बेटी को इस MKSY  के तहत लाभ उपलब्ध कराने के लिए आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए ऑनलाइन तरीके को Follow करे और योजना का लाभ उठाये |

सर्वप्रथम आवेदक को Kanya Sumangala Yojana की Offical Website पर जाना होगा |

Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा इसके बाद आपको होम पेज पर Citizen Service Portal का ऑप्शन दिखाई देगा |

इस विकल्प पर क्लिक करना होगा |विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आगे का पेज खुल जायेगा इस पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा |

Application Form Kanya Sumangala

रजिस्ट्रेशन से पहले आपको नियम दिखाई देंगे जिसके नीचे आपको मै सहमत हूँ पर क्लिक करना होगा |फिर एक नया पेज खुल जायेगा |

फिर आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम पता ,मोबाइल नंबर ,माता पिता का आधार नंबरआदि भरना होगा और इसके पश्चात् OTP डालकर सत्यापित करना होगा |

सही OTP डालने के बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जायेगा जैसे आपको रजिस्ट्रेशन होगा आपको यूज़र आईडी मिल जाएगी |इससे आपको MKSY Portal Login करना होगा |

Login to MKSY Portal

आपको लॉगिन करने के लिए यूज़र आईडी और पासवर्ड डालना होगा इससे आपका लॉगिन हो जायेगा |

रेजिस्ट्रेशन होने के बाद आपको कन्या पंजीकरण फॉर्म मिल जायेगा |इस पंजीकरण फॉर्म पर आपको अपनी बेटी से सम्बंधित पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी और सभी दस्तावेज़ों को अपलोड करना होगा तथा फिर लास्ट में सब्मिट के बटन पर क्लिक करना होगा |

इस तरह आप इस योजना के तहत आपकी बेटी के लिए आवेदन फॉर्म भर सकते है |

कन्या सुमंगला योजना ऑफलाइन आवेदन कैसे करे?

राज्य के जो लोग ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पा रहे है तो वह ऑफलाइन भी आवेदन कर सकते है ऑफलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया हमने आपको नीचे दी हुई है आप इसे विस्तारपूर्वक पढ़े और योजना का लाभ उठाये।

सबसे पहले आपको उपरोक्त कार्यालय से निशुल्क प्राप्त कर सकते है ।आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर में पूछी गयी सभी जानकारी को भरना होगा ।सभी जानकारी भरने के बाद आपको आवेदन फोम के साथ अपने सभी ज़रूरी दस्तावेज़ों को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करना होगा ।

इसके बाद आपको अपना आवेदन फॉर्म खंड विकास अधिकारी (विकास खंड अधिकारी), एसडीएम, परिवीक्षा अधिकारी, उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी आदि के कार्यालय में जमा करना होगा।

इसके बाद भरे गए आवेदनों को संबंधित अधिकारी द्वारा जिला प्रोबेशन अधिकारी (डीपीओ) को भेज दिया जाएगा। डीपीओ सभी सूचनाओं को ऑनलाइन फीड करेगा और इन ऑफ़लाइन अनुप्रयोगों की आगे की प्रक्रिया ऑनलाइन मोड में की जाएगी।

इस तरह आप ऑफलाइन आवेदन कर सकते है ।

Offline Apply

सबसे पहेले आपको Kanya Sumangala Yojana Application Form प्राप्त करना होगा।

यहा पर आपको आवेदन पत्र कैसे भरना है उसके बारे मे जानकारी दी गई है।

सबसे पहेले आपको निमने रूप से जानकारी को भरना है।

अब आपको बालिका की जन्म तारीख, जन्म स्थान, माता का नाम, पिता का नाम, (यदि आभिभावक ध्वारा आवेदन किया जा रहा है तो उसका नाम), निवास का पता आदि की जानकारी लिखनी है।

अब आपको संतानों की संख्या, सामाजिक श्रेणी का चयन, मोबाइल नंबर, आधार नंबर आदि की जानकारी लिखनी है।

अब आपको बैंक खाते का विवरण लिखना है।

अब आप जिस श्रेणी मे आवेदन करना चाहते है उसका चयन करना है। (आपको आवेदन पत्र मे जिस श्रेणी का चयन किया है उसकी ही जानकारी भरनी है। अन्य को खाली छोड़ देना है।)

यदि आप श्रेणी 1 का चयन करते है तो आपको बालिका के जन्म प्रमाणपत्र का क्रमांक, प्रमाणपत्र जारी करने की तारीख, जहा जन्म हुआ है उस जगह का चयन करना है।

यदि आप श्रेणी 2 का चयन करते है तो आपको टिकाकरण के बारे मे सारी जानकारी लिखनी होगी।

यदि आप श्रेणी 3 का चयन करते है तो आपको कक्षा, स्कूल का नाम-पता, कोड, बालिका का आधार संख्या आदि की जानकारी लिखनी है।

यदि आप श्रेणी 4 का चयन करते है तो आपको कक्षा, स्कूल का नाम-पता, कोड, बालिका का आधार संख्या आदि की जानकारी लिखनी है।

यदि आप श्रेणी 5 का चयन करते है तो आपको कक्षा, स्कूल का नाम-पता, कोड, बालिका का आधार संख्या आदि की जानकारी लिखनी है।

यदि आप श्रेणी 6 का चयन करते है तो आपको जहा से 12वी कक्षा उत्तीर्ण की है उस स्कूल का नाम-पता, 12वी पास का वर्ष, परीक्षा बोर्ड का नाम, स्नातक डिग्री\डिप्लोमा कोर्स का नाम, कोर्स की अवधि, कॉलेज\संस्थान का नाम, कोड, बालिका का आधार संख्या आदि की जानकारी लिखनी है।

इस तरह आपको Form को सही से भरना है और उसके साथ सभी जरूरी दस्तावेज़ को जोड़ना है।

याद रखे हर श्रेणी के लिए आपको हर बार अलग से आवेदन करना होगा।

अब आपको यह Form खंड विकास अधिकारी \ SDM \ जिला परिवीक्षा अधिकारी \ उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी के कार्यालय मे जमा करने होगे।

अब प्राप्त सभी Offline आवेदनो को जिला परिवीक्षा अधिकारी ध्वारा Online अपलोड किया जाएगा। अब आगे की सारी प्रक्रिया Online रूप से होगी।

ध्यान दे डाक ध्वारा भेजे गए आवेदन मान्य नहीं होगे।

आपको इसके तहत आवेदन करने के लिए जो भी श्रेणी लागू होती है उसके लिए आप आवेदन कर सकते है।

जब आप एक बार इस योजना के तहत आवेदन करते है तब आपको एक पहचान संख्या नंबर या Login ID मिलता है, उसे आवेदक को संभाल कर रखना होगा। क्योकि आगे के सभी आवेदन के लिए यह आपको काम आएगा।

आवेदन करते समय ध्यान देने योग्य बाते…….

श्रेणी 1 – नवजात बालिकाओ हेतु

इस श्रेणी के तहत 01-04-2019 या उसके बाद जन्मी बालिका के लिए ही आवेदन कर सकती है।

इसके तहत आवेदन बालिका की जन्म तिथि के 6 माह के भीतर करना अनिवार्य है।

बालिका का जन्म प्रमाणपत्र अपलोड करना है।

संस्थागत प्रसव पंजीकरण का प्रमाणपत्र अपलोड करना है।

शपथ पत्र

श्रेणी 2 – टिकाकरण पूर्ण करने वाली बालिकाओ हेतु

टिकाकरण कार्ड अपलोड करना होगा।

शपथ पत्र अपलोड करना होगा।

श्रेणी 3 – कक्षा 1 मे प्रवेश प्राप्त करने वाली बालिकाओ हेतु

प्रार्थना पत्र किसी सरकारी, अनुदानित या मान्यता प्राप्त विधालय मे दाखिला लेने के बाद उसी वर्ष 31 जुलाई तक या विधालय मे दाखिले की अंतिम तिथि के 45 दिन के अंदर (जो भी बाद मे हो) तक जमा करना अनिवार्य है।

बालिका के कक्षा 1 मे प्रवेश लेने संबंधी प्रमाणपत्र \ विधालय का U-DISE कोड या विधालय का कोड।

शपथ पत्र अपलोड करना होगा।

श्रेणी 4 – कक्षा 6 मे प्रवेश प्राप्त करने वाली बालिकाओ हेतु

प्रार्थना पत्र किसी सरकारी, अनुदानित या मान्यता प्राप्त विधालय मे दाखिला लेने के बाद उसी वर्ष 31 जुलाई तक या विधालय मे दाखिले की अंतिम तिथि के 45 दिन के अंदर (जो भी बाद मे हो) तक जमा करना अनिवार्य है।

बालिका के कक्षा 6 मे प्रवेश लेने संबंधी प्रमाणपत्र \ विधालय का U-DISE कोड या विधालय का कोड।

शपथ पत्र अपलोड करना होगा।

श्रेणी 5 – कक्षा 9 मे प्रवेश प्राप्त करने वाली बालिकाओ हेतु

प्रार्थना पत्र किसी सरकारी, अनुदानित या मान्यता प्राप्त विधालय मे दाखिला लेने के बाद उसी वर्ष 30 सितम्बर तक या बोर्ड मे पंजीकरण की अंतिम तिथि के 45 दिन के अंदर (जो भी बाद मे हो) तक जमा करना अनिवार्य है।

बालिका के कक्षा 9 मे प्रवेश लेने संबंधी प्रमाणपत्र \ विधालय का U-DISE कोड या विधालय का कोड।

शपथ पत्र अपलोड करना होगा।

श्रेणी 6 – स्नातक, डिग्री तथा दो साल के डिप्लोमा मे प्रवेश प्राप्त करने वाली बालिकाओ हेतु

प्रार्थना पत्र स्नातक, डिग्री तथा दो साल के डिप्लोमा मे दाखिला लेने के बाद उसी वर्ष 30 सितम्बर तक या चालू सत्र मे पंजीकरण की अंतिम तिथि के 45 दिन के अंदर (जो भी बाद मे हो) तक जमा करना अनिवार्य है।

12वी कक्षा का प्रमाणपत्र

किसी महाविधालय \ विश्वविधालय \ अन्य शैक्षणिक संस्थान मे स्नातक, डिग्री तथा दो साल के डिप्लोमा मे दाखिला लेने काप्रवेश शुल्क की रशीद तथा संस्थान का परिचय पत्र की छायाप्रति।

शपथ पत्र अपलोड करना होगा।

यहा पर आपको इस लेख के माध्यम से Kanya Sumangala Yojana के बारे मे सभी जरूरी जानकारी देने का प्रयत्न किया है। अगर आपको लगता है की हमसे कोई जानकारी छूट गई है या आपको इस योजना संबंधी कोई प्रश्न है तो आप हमेCOMMENT के माध्यम से संपर्क कर सकते है।

Source: women_welfare,

यह भी देंखे :

  1. अभयचरणारविंद भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद जीवनी
  2. Wiki and Biography of Ritesh Agarwal A Self-made Young Entrepreneur
  3. हलधर नाग : ढाबा में जूठन धोने से लेकर पद्मश्री तक.!
  4. Maharishi Valmiki Biography "महर्षि वाल्मीकि का जीवन परिचय"
  5. Albert Einstein Biography in hindi | अल्बर्ट आइंस्टीन की जीवनी

दोस्तों, आशा करता हूँ, आपको ‘UP Kanya Sumangala Yojana क्या है? [Apply online] इस योजना के क्या लाभ है?‘ पोस्ट रुचिकर लगी  होंगी . UP Kanya Sumangala Yojana क्या है? [Apply online]  जानकारी पसंद आये तो आप इसे Like ज़रूर करें. और अपने Friends को Share भी करें. ‘Interesting Crocodile Facts For Kids’ जैसे अन्य रोचक तथ्य पढ़ने के लिए हमें Subscribe कर लें.

नोट : अगर आपको "UP Kanya Sumangala Yojana क्या है? [Apply online] इस योजना के क्या लाभ है?" पोस्ट पसंद आयी है तो इसे ज्यादा से ज्यादा Share करे. 

You may like these posts

-->