-->

Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana 2020 | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना

PM Gareeb Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पंजीकरण | Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana | प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना

योजना का नामप्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
लाभार्थीदेश 80 करोड़ लाभार्थी
उद्देश्यगरीब लोगो को राशन पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी
26 मार्च, 2020 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना लांच की। यह योजना देश के लोगों के लिए COVID-19 और इसके प्रभावों से लड़ने के लिए एक आर्थिक मदद पैकेज है। इस पैकेज के तहत लगभग 1.7 लाख करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। ये खाद्य सुरक्षा योजना आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को दुनिया भर में प्रकोप बन चुके कोरोनॉयरस के कारण लागू हुए लॉकडाउन और नौकरी के नुकसान की अतिरिक्त चुनौती को पाटने में मदद करेगी।


प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना का ऐलान हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश के गरीब लोगो को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है । इस योजना के अंतर्गत देश के 80 करोड़ गरीब परिवारों को हर महीने राशन कार्ड की सहायता से 2 रूपये प्रतिकिलो गेहू दिए जायेगा और चावल 3 रूपये प्रतिकिलो उपलब्ध कराये जायेगे ।इस योजना के तहत देश के 80 करोड़ राशन कार्ड लाभार्थियों को 7 किलो राशन सब्सिडी दी जायेगा । प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना एवं अन्य योजनाओं के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा कुल 1.70 करोड़ की धनराशि आवंटित की गई है जो कि सभी योजनाओं का सफलतापूर्वक कार्यान्वयन करने के लिए प्रयोग की जाएगी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना

  • इस योजना के तहत लगभग 80 करोड़ लोगों को अगले तीन महीनों के लिए 5 किलो मुफ्त चावल और गेहूं प्रदान किया जाएगा। यह पहले से ही आवंटित 5 किलोग्राम चावल और गेहूं के अतिरिक्त है। इसके साथ ही प्रति परिवार 1 किलो दाल भी मुफ्त दी जायेगी।
  • इसके अलावा डॉक्टरों, स्वच्छता कर्मचारियों, नर्स, पैरामेडिक्स और वायरस के खिलाफ लड़ाई में फ्रंट लाइन पर काम करने वाले अन्य कर्मचारियों के लिए बीमा कवर प्रदान किया जाएगा।
  • इसके अतिरिक्त वृद्धावस्था, दिव्यांग और पेंशनभोगियों को 1000 रुपये का डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर मिलेगा। इससे 3 करोड़ लोगों को फायदा होगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना का उद्देश्य

जैसे की बहुत से ऐसे लोग है जो आर्थिक रूप से कमज़ोर है और मेहनत मज़दूरी से अपना जीवन यापन कर रहे है मगर कोरोना वायरस के कहर की वजह से पूरी देश में 21 दिन का लॉक डाउन कर दिया है जिससे गरीब लोग अपने काम पर नहीं जा प् रहे है और उन्हें कहने पिने में दिक्कत  हो रही है इस समस्या को देखे हुए प्रधानमंत्री जी ने इस पीएम राशन सब्सिडी योजना का ऐलान किया है इस योजना के ज़रिये देश के लोग सब्सिडी पर हर महीने 7 किलो राशन प्राप्त कर सकते है । इस योजना के  ज़रिये देश के गरीब लोग लॉक डाउन केदिनों में घर बैठे अच्छे से जीवन यापन कर सकते है ।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

जैसे की आप लोग जानते है की पुरे भारत में 21 दिन का लॉक डाउन हो चूका है । इस समय गरीब लोग खाने के लिए राशन को लेकर बड़े चिंतित है इसलिए सरकार ने इस योजना के ज़रिये  देश के गरीबो को अन्न और धन दोनों  के माध्यम से  सहायता प्रदान करेगी।इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार देश के गरीब लोगो को आर्थिक रूप से मदद सीधे लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से धनराशि  पहुंचा कर  करेगी  | इसी  के चलते  हमारे देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने 26 मार्च 2020 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के द्वारा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभों की बात की और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के साथ साथ कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं भी की है ।



प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना

मीडिया को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री द्वारा की गई प्रधानमंत्री गरीब कल्याण की कुछ अन्य महत्वपूर्ण घोषणाएं हैं:- 

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

  • इस योजना के तहत मुफ्त सिलेंडर दिया जायेंगे। इससे गरीबी रेखा से नीचे के लगभग 8.3 करोड़ परिवारों को फायदा होगा।

मनरेगा

  • इस आर्थिक पैकेज में मनरेगा की दैनिक मजदूरी को 182 रुपये से बढ़ाकर 202 रुपये कर दिया गया है। इससे 5 करोड़ श्रमिकों को लाभ मिलेगा।
  • लॉक डाउन के दौरान, जब लोगों को घर के अंदर रहना होता है, तो श्रमिक मनरेगा योजना के तहत काम नहीं कर पाएंगे। फिर इसमें मनरेगा क्यों शामिल है? यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि भारत सरकार ने अब मनरेगा योजना के तहत स्वच्छता कर्मचारियों को शामिल किया है। और स्वच्छता कर्मचारियों को पूरे समय काम करना है और उनका वेतन भी दोगुना कर दिया गया है। साथ ही, उन्हें तीन महीने की अवधि के लिए 2000 रुपये के अतिरिक्त भत्ते भी मिलेंगे। मनरेगा के तहत सफाई कर्मचारियों का स्वच्छ भारत अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत के साथ हो जोड़ा गया था।

प्रधानमंत्री जन धन योजना

  • इस योजना के तहत, महिला खाताधारकों को अगले तीन महीनों के लिए प्रति माह 500 रुपये मिलेंगे। इस कदम से लगभग 20 करोड़ खाताधारकों को लाभ मिलेगा।

इंश्योरेंस कवर देने की घोषणा

  • वित्त मंत्री ने इसके अलावा कोरोना वायरस से लड़ने वालों के लिए 50 लाख रुपये का इंश्योरेंस कवर देने की घोषणा की. इस योजना से 20 लाख कर्मचारियों को फायदा होगा. इनमें आशा वर्कर्स और डॉक्टर आशा वर्कर, नर्स और अन्य मेडिकल स्टॉफ शामिल हैं.

दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये अतिरिक्त

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि बुजुर्ग, विधवा और दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये अतिरिक्त दिए जाएंगे. ये अगले तीन महीने के लिए है. इसे दो किस्त में दिया जाएगा. इस वर्ग के लोगों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर किया जाएगा. इस पहल का लाभ लगभग 3 करोड़ लोगों को होगा.

दीनदयाल योजना

दीनदयाल योजना के तहत महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा. पहले इनको 10 लाख तक का लोन दिया जाता था. अगले तीन महीने तक महिला जनधन खाताधारकों को प्रति माह 500 रुपये दिए जाएंगे. वित्त मंत्री ने कहा कि इसका फायदा लगभग 20 करोड़ महिलाओं को होगा.

तीन महीने तक EPF सरकार भरेगी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत के ईपीएफ कंट्रीब्यूशन का भुगतान करेगी. वित्त मंत्री ने कहा सरकार पीएफ कंट्रीब्यूशन कंपनी की 12 प्रतिशत और कर्मचारी की 12 प्रतिशत यानी 24 फीसदी सरकार अदा करेगी. अगले तीन महीने तक EPF सरकार भरेगी. इसका लाभ 100 कर्मचारियों वाली कंपनी को मिलेगा. 15 हजार रुपये से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों को लाभ होगा.

प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के लाभ

  • इस योजना का लाभ देश के सभी  राशन कार्ड धारक लाभ उठा सकते है ।
  • इस योजना के तहत देश के 80 करोड़ लाभार्थियों को राशन सब्सिडी प्रदान किया जायेगा ।
  • देश के लोगो को तीन महीने तक गेहू  2 रूपये प्रतिकिलो और चावल 3 रूपये प्रतिकिलो की दर से राशन राशन की दुकानों पर  दिया जायेगा ।
  • प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के अंतर्गत देश 80 करोड़ लाभार्थियों को 3 महीने तक 7 किलो राशन सरकार द्वारा प्रदान  किया जायेगा ।

relief to :
An advance 1st installment of ₹2,000 to be released as part of PM Kisan Samman Nidhi Yojana; To benefit 8.69 crore farmers.


प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में पंजीकरण कैसे करे ?

देश के जो गरीब लोग इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी पर राशन सरकार द्वारा प्राप्त करना चाहते है तो उन्हें निचे दिए गए दिशा निर्देश को पढ़ना होगा। प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए कोई पंजीकरण की प्रक्रिया नहीं है । देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत 2 रूपये प्रतिकिलो की दर से गेहू और 3 रूपये प्रतिकिलो की दर से चावल प्राप्त करना चाहते है तो वह राशन की दुकान पर जाकर अपने राशन कार्ड के ज़रिये प्राप्त कर सकते है ।सब्सिडी पर राशन लेकर देश के गरीब लोग अपना जीवन यापन कर सकते है
केन्द्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस (कोविड-19) से प्रभावित अर्थव्यवस्था और गरीबों की मदद के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का घोषणा किया है. उन्होंने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत लॉकडाउन से प्रभावित गरीब तबके के लोगों की सहायता करेगी.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार लॉकडाउन के बाद से लगातार लोगों की मुश्किलों को कम करने के काम में लगी हुई है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 24 मार्च 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए तीन महीने तक किसी भी एटीएम से पैसे निकालने पर कोई चार्ज न लगने का घोषणा किया था.

आपको ये पोस्ट पसंद आ सकती हैं

टिप्पणी पोस्ट करें