-->

कोरोनावायरस के लक्षण | खुद को कोरोनावायरस संक्रमण से बचाएं

Coronavirus Live Updates in Hindi First Case Of Coronavirus In India

भारत में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि हुई है. यह मामला केरल में सामने आया है. यहां वुहान से केरल लौटा छात्र में कोरोना वायरस का संक्रमण देखा गया है.
खास बातें
  • चीन में मरने वालों (Coronavirus Death) का आंकड़ा बढ़कर 170 पहुंच गया है.
  • भारत में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि हुई है.
  • वुहान (Wuhan) से केरल लौटे छात्र में कोरोना वायरस का संक्रमण देखा गया है.
First Case Of Coronavirus In India: चीन में कोरोना वायरस को लेकर दहशत का माहौल है. चीन से शुरू हुआ यह वायरस अब दुनिया के और देशों में भी फैल रहा है. कोरोना वायरस के मामले श्रीलंका, इंडोनेशिया, संयुक्त अरब अमीरात, ऑस्ट्रेलिया, तिब्बत समेत कई देशों में देखने को मिलें. कोरोना वायरस की चपेट में आने से चीन में मरने वालों (Coronavirus Death Toll) का आंकड़ा बढ़कर 170 पहुंच गया है. जबकि 7783 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित (Coronavirus Update) होने की पुष्टि हो चुकी है. वहीं भारत में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि हुई है. यह मामला केरल में सामने (Coronavirus In Kerala) आया है. यहां वुहान (Wuhan) से केरल लौटा छात्र में कोरोना वायरस का संक्रमण देखा गया है. भारत सरकार चीन के वुहान (Indian In Wuhan) में मौजूद भारतीयों को स्वदेश लाने की तैयारी कर रही है.

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि केरल से नोवेल कोरोनावायरस का एक पॉजिटिव मामला सामने आया है. स्वास्थ्य मंत्रालय से जारी एक बयान में कहा गया, "केरल में नोवेल कोरोनावायरस का एक पॉजिटिव मामला -वुहान यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले एक छात्र में सामने आया है."

मरीज को अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है. मंत्रालय ने कहा, "मरीज की हालत स्थिर है और उस पर करीबी नजर रखी जा रही है."

केरल के एक रिपोर्ट में कहा गया कि स्वास्थ्य मंत्री के.के. शैलजा ने शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारियों की एक इमरजेंसी बैठक बुलाई है. एक अधिकारी ने नाम जाहिर न करने की शर्त पर कहा, "हम छह सैंपल के जांच के परिणाम की प्रतीक्षा कर रहे थे और हमें पांच के परिणाम मिले, जो निगेटिव थे."

नहीं है घबराने की जरूरत, इन बातों का ध्‍यान रख खुद को संक्रमण से बचाएं - (Prevention, Treatment of Novel Coronavirus)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने नोवेल कोरोनावायरस से बचाव के उपाय जारी किए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, आम नागरिकों को इस वायरस के प्रति जागरूक बनाने और इसके संक्रमण को फैलने से रोकने में ये उपाय मददगार साबित हो सकते हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "आप सभी को अपने और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए यह उपाय जानना आवश्यक है."

कोरोनावायरस के लक्षण (Symptoms of coronavirus) 

मंत्रालय ने कोरोनावायरस के लक्षण बताते हुए कहा है कि बुखार, खांसी, सांस लेने में कठिनाई इसके आम लक्षण हैं.

कोरोनावायरस से कैसे बचें (Prevention of Novel Coronavirus)

मंत्रालय ने खुद को और दूसरों को इस बीमारी से बचाने के लिए विशेषज्ञों ने दी ये सलाह- 

1. चीन से लौटे भारतीयों को विशेष तौर पर सतर्क रहें. विशेषज्ञों के मुताबिक, यदि आपने हाल में चीन की यात्रा की है (पिछले 14 दिनों के भीतर) या किसी गैर-पंजीकृत व्यक्ति से संपर्क किया है तो आपको यह सलाह दी जाती है कि अपनी वापसी के बाद 14 दिनों तक घर में अलग-थलग रहें, अलग कमरे में सोएं.

2. मंत्रालय की सलाह है कि परिवार के अन्य सदस्यों के साथ कम संपर्क करें और आगंतुकों से मुलाकात को नजरअंदाज करें. 

3. खांसने और छींकने पर नाक और मुंह ढक लें.

4. वहीं सभी सामान्य जनों के लिए चेतावनी जारी करते हुए कहा गया है कि सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण वाले किसी व्यक्ति के निकट संपर्क में आने से बचें. (किसी भी व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखें). 

5. घर में हर किसी को हर समय हाथ की सफाई रखनी चाहिए और हाथ धोना चाहिए, विशेष तौर पर छींकने या खांसने के बाद.

6. सलाह यह भी है कि भोजन तैयार करने से पहले और बाद में, खाने से पहले, शौचालय उपयोग के बाद जब हाथ गंदे होते हैं, साबुन से हाथ धोने चाहिए.

7. जानवरों या जानवरों के अपशिष्ट के संपर्क में आने के बाद अच्छी तरह कम से कम 20 सेकेंड तक साबुन से हाथ धोने चाहिए.

8. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी की गई एडवाइजरी कहती है, "यदि आपको चीन से लौटने के 28 दिनों के भीतर बुखार, खांसी या सांस लेने में कठिनाई होती है तो बिना देरी किए तुरंत डॉक्टर को इसकी जानकारी दें और इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करें."

9. मंत्रालय की सलाह है कि तुरंत मास्क पहनें और नजदीकी चिकित्सा केंद्र जाकर परामर्श लें. घबराएं नहीं, अभी तक नोवल कोरोनावायरस मरीज का एकलौता मामला केरल में सामने आया है. मरीज एक छात्र है जो चीन के वुहान यूनिवर्सिटी में पढ़ रहा था.

कोरोना वायरस पर अध‍िक जानकारी या मदद पाने के लिए इस हेल्‍पलाइन नंबर पर कॉल कर सकते हैं (coronavirus: Indian govt sets up 24X7 helpline number)

नोवल कोरोना वायरस का प्रकोप सबसे ज्यादा चीन में फैल रहा है. चीन के अलावा सिंगापुर नेपाल कोरिया थाईलैंड समेत अन्य देशों से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अन्य देशों से भी कई मामले सामने आए हैं. कोरोनावायरस बीमारी के लक्षण सामान्य सर्दी-जुकाम से लेकर गंभीर बीमारियों जैसे मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (एमईआरएस)-सीओवी और सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (सार्स-सीओवी) जैसे हैं.

अधिक जानकारी के लिए भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय के नियंत्रण कक्ष के फोन नंबर +91-11-2397 8046 पर संपर्क करें.

जांच में मरीज नोवल कोरोनावायरस के लिए सकारात्मक पाया गया है और उसे अस्पताल में एक अलग विशेष कक्ष में रखा गया है. मरीज की स्थिति फिलहाल स्थिर है और उसकी कड़ी निगरानी की जा रही है. इनुपट- आईएएनएस
SOURCE: NDTVIndia

You may like these posts